वाराणसी के विकास में रोड़े अटका रही है अखिलेश सरकार – मोदी

वाराणसी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का रोड शो।

रोड शो के बाद काशी विद्यापीठ पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जनसभा को संबोधित किया। प्रधानमंत्री ने कहा कि रोड शो में बनारस के लोगों ने कल के रिकॉर्ड को भी तोड़ दिया। उन्होंने कहा कि बनारस की जनता से मिल रहा प्यार और आशीर्वाद ही उन्हें दिल्ली में काम करने की ताकत देता है।

प्रधानमंत्री ने कहा, ‘लोकसभा चुनावों से पहले की अखबारों की सुर्खियां याद करो,,आज कॉमनवेल्थ घोटाला, इतने रुपये गए, आज पनडुब्बी घोटाला तो आज हेलीकॉप्टर घोटाला और इतने रुपये गए. रोजाना घोटालों की ख़बरों से अखबार भरे रहते थे, लेकिन अब गया वो जमाना जब जाता ही जाता था, अब देश में ऐसी सरकार आई है, जहां सिर्फ आ रहा है. वर्तमान सरकार के दामन पर घोटालों के धब्बे नहीं लगे हैं।’

नरेंद्र मोदी ने कहा कि अगर देश को आगे बढ़ाना है तो सरकार निर्णायक होनी चाहिए, फैसले लेने वाली होनी चाहिए और देशहित में फैसले कठोर के कठोर भी करने पड़ते हैं, लेकिन जो मिट्टी से निकले लोग होते हैं, मेहनतकश लोग होते हैं,वे ही फैसले लेने की हिम्मत रखते हैं।

सपा-कांग्रेस पर शब्दों का वार करते हुए उन्होंने कहा,’ जिन लोगों को सत्ता विरासत में मिलती है, वे नाजुक लोग होते हैं, उन्हें सत्ता जाने का डर होता है, इसलिए वे कठोर फैसले नहीं ले पाते। मुख्यमंत्री को उनके पिता से सत्ता मिली है, उनके नए मित्र को नाना-दादी और पिता से सत्ता मिली है। लेकिन हमें सत्ता विरासत में नहीं मिली है। हमें देश को आगे बढ़ाना है. इसलिए केंद्र सरकार को कई कठोर फैसले लेने पड़े।’

जनसभा से पहले रोड शो में शामिल होने के लिए प्रधानमंत्री शाम चार बजे सेना के हेलीकॉप्टर से वाराणसी पुलिस लाइन में उतरे। यहां से वे कड़ी सुरक्षा के बीच पांडेयपुर चौराहे पहुंचे और फिर खुली छत वाली गाड़ी में सवार होकर रोड शो में शामिल हुए।

दिग्गज नेताओं ने वाराणसी में अपनी पूरी ताकत झोंक दी है।

रोड शो पांडेयपुर चौराहे से लेकर काशी विद्यापीठ जाकर समाप्त हुआरोड शो के बाद काशी विद्यापीठ पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जनसभा को संबोधित किया। प्रधानमंत्री ने कहा कि रोड शो में बनारस के लोगों ने कल के रिकॉर्ड को भी तोड़ दिया। उन्होंने कहा कि बनारस की जनता से मिल रहा प्यार और आशीर्वाद ही उन्हें दिल्ली में काम करने की ताकत देता है।

उन्होंने विरोधी दलों पर कटाक्ष करते हुए कहा कि सपा, बसपा और कांग्रेस ने राजनीति की संस्कृति को बदला है। उनके मुताबिक ‘कुछ का साथ, कुछ का विकास’ ही एकमात्र मकसद होता है। जबकि लोकतंत्र में ‘सबका विकास और सबका साथ’ दोनों ही जरुरी हैं और बीजेपी इसी मूलमंत्र को लेकर चल रही है।

उन्होंने कहा कि उनका सपना समूचे उत्तर प्रदेश, फिर चाहे वह पूर्वांचल ही क्यों न हो, का विकास है। विकास के लिए देश के सभी भागों को साथ लेकर चलना होगा। जापानी बुखार का जिक्र करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि अगर यहां कि सरकार सही होती तो पूर्वांचल में जापानी बुखार का कहर इतना नहीं होता। हर साल यहां बड़ी संख्या में लोग इस बुखार के शिकार होते हैं, लेकिन राज्य सरकार इस ओर ध्यान नहीं दे रही है।

नोटबंदी का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि नोटबंदी के बाद कुछ लोगों ने यह भ्रम फैलाया कि अब व्यापारियों की खैर नहीं, आयकर विभाग वाले उन्हें परेशान करेंगे। उन्होंने कहा, ‘ईमानदार को परेशान करने की कोई हिम्मत नहीं करेगा, देश में ईमानदारों का सम्मान होगा, उनकी जय-जयकार होगी।’ उन्होंने कहा कि लुटेरों को किसी भी सूरत में बख्शा नहीं जाएगा।

प्रधानमंत्री ने कहा, ‘लोकसभा चुनावों से पहले की अखबारों की सुर्खियां याद करो, आज कॉमनवेल्थ घोटाला, इतने रुपये गए, आज पनडुब्बी घोटाला तो आज हेलीकॉप्टर घोटाला और इतने रुपये गए। रोजाना घोटालों की ख़बरों से अखबार भरे रहते थे, लेकिन अब गया वो जमाना जब जाता ही जाता था, अब देश में ऐसी सरकार आई है, जहां सिर्फ आ रहा है. वर्तमान सरकार के दामन पर घोटालों के धब्बे नहीं लगे हैं।’

नरेंद्र मोदी ने कहा कि अगर देश को आगे बढ़ाना है तो सरकार निर्णायक होनी चाहिए, फैसले लेने वाली होनी चाहिए और देशहित में फैसले कठोर के कठोर भी करने पड़ते हैं, लेकिन जो मिट्टी से निकले लोग होते हैं, मेहनतकश लोग होते हैं,वे ही फैसले लेने की हिम्मत रखते हैं।

सपा-कांग्रेस पर शब्दों का वार करते हुए उन्होंने कहा,’ जिन लोगों को सत्ता विरासत में मिलती है, वे नाजुक लोग होते हैं, उन्हें सत्ता जाने का डर होता है, इसलिए वे कठोर फैसले नहीं ले पाते। मुख्यमंत्री को उनके पिता से सत्ता मिली है, उनके नए मित्र को नाना-दादी और पिता से सत्ता मिली है. लेकिन हमें सत्ता विरासत में नहीं मिली है। हमें देश को आगे बढ़ाना है. इसलिए केंद्र सरकार को कई कठोर फैसले लेने पड़े।’

जनसभा से पहले रोड शो में शामिल होने के लिए प्रधानमंत्री शाम चार बजे सेना के हेलीकॉप्टर से वाराणसी पुलिस लाइन में उतरे। यहां से वे कड़ी सुरक्षा के बीच पांडेयपुर चौराहे पहुंचे और फिर खुली छत वाली गाड़ी में सवार होकर रोड शो में शामिल हुएI रोड शो पांडेयपुर चौराहे से लेकर काशी विद्यापीठ जाकर समाप्त हुआ।

Be the first to comment on "वाराणसी के विकास में रोड़े अटका रही है अखिलेश सरकार – मोदी"

आप इस खबर पर अपनी प्रतिक्रिया यहां पर दे सकते हैं।

%d bloggers like this: